श्री विष्णु के 10अवतारों में से सातवेंअवतार श्रीराम भगवान का इतिहास ।

श्री राम प्राचीन भारत में अवतरित हुए । “रामायण” नामक ग्रंथ में भगवान श्री राम के विषय में पूर्ण जानकारी दी गई है। उत्तर भारत में श्री राम बहुत अधिक पूजनीय हैं l हिन्दू धर्म में, श्री राम, श्री विष्णु के 10 अवतारों में से सातवें अवतार माने जाते हैं। श्रीराम जी अयोध्या के राजा दशरथ के पुत्र थे श्री राम के तीन भाई थे:- (1)=भरत,(2)= शत्रुघ्न और( 3)= लक्ष्मण। श्रीराम जी के गुरु का नाम वशिष्ठ था। उनका विवाह माता सीता के साथ हुआ था। भगवान श्रीराम और सीता जी की जोड़ी को आज भी एक आदर्श जोड़ी माना जाता है। भगवान श्रीराम जी के दो पुत्र थे:- लव और कुश। श्री हनुमान, भगवान श्रीराम के, सबसे बड़े भक्त माने जाते है।भगवान श्री राम को मर्यादा पुरुषोत्तम भी कहा जाता है।श्री राम के बारे में महर्षि वाल्मीकि द्वारा अनेक कथाएं लिखी गई हैं। वाल्मीकि के अलावा प्रसिद्ध महाकवि तुलसीदास ने भी श्री राम के महत्व को लोगों को समझाया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *